What is Nowruz and why is it celebrated in Hindi | Nowruz उत्सव क्यों मनाया जाता हैं ?

What is Nowruz and why is it celebrated in Hindi

Nowruz क्या हैं 

Nowruz एक ईरानी नववर्ष का नाम हैं। जिसको फ़ारसी लोग नया साल भी कहते हैं। Nowruz का शाब्दिक अर्थ नया दिन हैं। इस फेस्टिवल को ईरानियों द्वारा पुरे दुनिया भर में बढे ही धूम धाम से मनाया जाता हैं। Nowruz मूल रूप से प्रकृति स्नेह और प्रेम का उत्सव हैं। इस उत्सव को ना केवल ईरानी बल्कि कुछ पडोसी देश भी बढे धूम धाम से मानते हैं। इसके अलावा bharat के पारसी समुदाय के लोग भी इसे नववर्ष के रूप में मानते हैं। बताया  जाता हैं की Nowruz उत्सव को पश्चिम एशिया ,मध्य एशिया,काकेशस में 3000 से भी अधिक समय से मनाया जा रहा हैं जो अपने में ही बड़ा गौरान्वित कर देने वाली बात है। इस मुख्य रूप से ईरानी कैलेंडर के पहले महीने का पहला दिन भी हैं। Nowruz उत्सव को और भी कई नामो से जाना जाता हैं जैसे नवरोज ,नोवरोटिज ,नोवरूज़ ,नवरूज़ ,नवरुजी ,आदि नमो से भी लोग इस उत्सव को पहचानते हैं। 

What is Nowruz and why is it celebrated in Hindi | Nowruz उत्सव क्यों मनाया जाता हैं ?
What is Nowruz and why is it celebrated in Hindi | Nowruz उत्सव क्यों मनाया जाता हैं ?

Nowruz उत्सव क्यों मनाया जाता हैं ?

Nowruz उत्सव को इसलिए मनाया जाता हैं क्युकी ये पुनर्जीवन और उसके ह्रदये में परिवर्तन के साथ प्रकृति की स्वच्छ आत्मा में चेतना व निखार पर बल देता हैं। इसमें सगे सम्बन्धी एक दूसरे को भेट देते हैं और अपने दिल की बात एक दूसरे से कहते हैं इस दिन वो अपने सारे गीले सिकवे भुला कर एक दूसरे के गले लगते हैं। और Nowruz उत्सव को मिलकर बड़े ही धूम धाम से मानते हैं। 

Nowruz उत्सव सामान्यता 20,21,22 मार्च को मनाया जाता हैं। Nowruz उत्सव को अगर भारतीय समझना चाहे तो आप इसे ,ईद और होली इत्यादि की तरह देख सकते है। 

Nowruz ईरान का सबसे अधिक मनाया जाने वाला उत्सव हैं इसी दिन देख का आधिकारिक नया वर्ष शुरू होता हैं यह फरवरी दिन का पहला दिन होता हैं। और ईरानी सोलर कैलेंडर का पहला महीना भी होता हैं। 

Nowruz उत्सव को मानाने से पहले घर की साफ़ सफाई और कुछ खरे दारी की जाती हैं।Nowruz के आने से पहले लोग अपने अपने घरो को अच्छे से साफ कर लेते हैं इसके साथ ही लोग अपने लिए नए नए कपडे खरीदते हैं। इसी के साथ घर को सजाने के लिए लाइट और फूल भी खरीदते हैं। Nowruz उत्सव में गरीब से गरीब परिवार भी अपने लिए एक जोड़ी कपडे तो लेता ही हैं। 




Post a Comment

Previous Post Next Post